final_ncfe_logo.jpg

A Section 8 (Not for Profit) Company

 

NCFE का परिचय

 

राष्ट्रीय वित्तीय शिक्षा केंद्र (एनसीएफई) एक सेक्शन 8 कंपनी है (लाभ के लिए नहीं) जिसे भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई), भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी), भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई) और पेंशन निधि विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) द्वारा प्रोमोट किया जाता है।  

 

कंपनी के उद्देश्य

 

  1. वित्तीय स्थिरता और विकास परिषद की राष्ट्रीय वित्तीय शिक्षा नीति के अनुसार भारत भर में जनसंख्य के सभी वर्गों के लिए वित्तीय शिक्षा को बढ़ावा देना।
  2. सेमिनारों, वर्कशॉप, कॉनक्ले, प्रशिक्षणों, प्रोग्राम्स, अभियानों, डिस्कसन फोरमों के जरिए खुद के द्वारा या संस्थानों, संगठनों की मदद से बिना फीस के या फीस लेकर देश भर के लोगों के सभी वर्गों में वित्तीय शिक्षा अभियानों के माध्यम से वित्तीय जागरूकता और सशक्तिकरण तैयार करना और वित्तीय शिक्षा में प्रशिक्सण प्रदान करना और इलेक्ट्रॉनिक या गैर-इलेक्ट्रॉनिक फॉर्मैट, वर्कबुक, वर्कशीट, साहित्य, पैम्फ्लेट्स, पुस्तिकाएं, फ्लायर, तकनीकी सहायता में वित्तीय शिक्षा सामग्री तैयार करना और वित्तीय बाजारों पर लक्ष्य आधारित लोगों के लिए उचित वित्तीय साहित्य तैयार करना और वित्तीय सुधार के लिए वित्तीय डिजिटल मोड साक्षरता प्रदान कर्ना ताकि वित्त में उनके ज्ञान, समझ, कौशल और योग्यता में सुधार किया जा सके।

 

दर्शन- वित्तीय रूप से जागरूक और सशक्त भारत का निर्माण करना।

मिशन- व्यापक वित्तीय शिक्षा अभियान चलाना ताकि लोगों को उपभोक्ता संरक्षण और शिकायत निवारण के लिए निष्पक्ष और पारदर्शी मशीनरी वाले विनियमित संस्थाओं के माध्यम से उपयुक्त वित्तीय उत्पादों और सेवाओं तक पहुंच बनाकर वित्तीय खुशहाली हासिल करने के लिए धन को अधिक प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने में मदद किया जा सके।

 

राष्ट्रीय वित्तीय शिक्षा नीति (NSFE) यहाँ पढ़ें।

 

NCFE Board of Directors

Shri Girraj Prasad Garg, Chairman

Smt. Sonali Sengupta, Director

Shri N Hariharan, Director

Smt. Yegnapriya Bharath, Director

Shri Ashish Kumar, Director

Shri Satyajit Dwivedi, Chief Executive officer